June 12, 2024

लू से बचाव के लिए सुरक्षित उपाय करने सभी संगठन सहमत

जिला प्रशासन के दिशा निर्देशों का करेंगे शत प्रतिशत पालन

मजदूरों की स्वास्थ्य और सुरक्षा का रखेंगे पूरा ध्यान

अपर कलेक्टर ने भीषण गर्मी से बचाव के लिए ली विभिन्न संगठनों की बैठक

संगठनों ने विषम हालात से निपटने दिए कई सुझाव

बिलासपुर.कलेक्टर के निर्देश पर भीषण गर्मी और लू से बचाव के लिए अपर कलेक्टर आरए कुरुवंशी ने उद्योग, व्यापार और विभिन्न सेवाओं से जुड़े संगठनों के पदाधिकारियों की बैठक ली। उन्हें आगामी दिनों में गर्मी की भीषणता की जानकारी देकर अपने संस्थान में कार्यरत श्रमिकों एवं स्वयं के बचाव के लिए उपाय करने के निर्देश दिए गए। इस दौरान उनके सुझाव भी नोट कर भविष्य में इनका पालन करने का आश्वासन दिया गया। उद्योग, सेवा और व्यापार से सम्बद्ध करीब डेढ़ दर्जन संस्थाओं के पदाधिकारी और अधिकारी बैठक में शामिल थे। सभी पदाधिकारियों ने हाथ उठाकर लू से बचाव के तमाम उपाय करने का भरोसा दिया। उन्होंने कहा कि गर्मी में आदमी सहित पशु पक्षियों को पानी पिलाना पुण्य और मानवीय सेवा का कार्य है। उन्होंने लोगों को जागरूक करने के लिए प्रशासन को बधाई दी।
अपर कलेक्टर श्री कुरुवंशी ने भीषण गर्मी से बचाव के लिए जिला प्रशासन की ओर से जारी दिशा निर्देशों का पालन करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि शरीर में पानी की कमी नहीं होने देना लू से बचाव का उत्तम उपाय है। ज्यादा से ज्यादा पानी पीते रहें। कार्यस्थल पर ओआरएस पाउडर और इलेक्ट्रोलाइट रखे रहें। मजदूरों को इनके उपयोग का तरीका बताकर उन्हें पिलाते रहें। आग बुझाने का संयंत्र अपडेट रहे। सभी को इनके संचालन का तरीका आना चाहिए। उन्होंने कहा की खदानों में बारूद का उपयोग किया जाता है । इसके संग्रहण स्थल में तापमान को नियंत्रित रखें,ठंडा रखें ताकि किसी तरह के विस्फोट अथवा अन्य अनहोनी से बचाया जा सके। श्री कुरुवंशी ने कहा की उद्योगपति अपने श्रमिकों एवं मजदूरों से काम लेने के घंटे को रीशेड्यूल करें । यथासंभव सुबह अथवा शाम को ज्यादा से ज्यादा काम लें ताकि लू के प्रभाव से मजदूरों को बचाया जा सके। मुख्य मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर पी श्रीवास्तव ने गर्मी से बचाव के उपाय सुझाए। उन्होंने कहा की ज्यादा धूप में काम करने से बचा जाए। ज्यादा से ज्यादा पानी पिया जाए ।सभी स्वास्थ्य केंद्रों में ओआरएस के पाउडर उपलब्ध हैं। यदि तत्काल उपलब्ध न भी हो पाए तो नींबू पानी भी लिया जा सकता है।
परिवहन संघ के सुझाव पर बस स्टैंड में दो प्याऊ तत्काल खोलने के निर्देश नगर निगम को दी गई। चेंबर ऑफ कॉमर्स के पदाधिकारी ने बताया की ट्रैफिक रुकने के स्थान पर छोटे-छोटे टेंट लगाया जा रहे हैं। गर्मी बढ़ने पर कारखानों में भोजन अवकाश में पर्याप्त वृद्धि करने के साथ ही आराम के लिए भी अतिरिक्त समय उपलब्ध कराया जा रहा है। ईएसआईसी के डॉक्टर रंजना साहू ने श्रमिकों की सुविधा के लिए किया जा रहे उपायों की जानकारी दी। चेंबर ऑफ कॉमर्स ने कहा कि बरसात के मौसम में ज्यादा से ज्यादा हम पेड़ पौधे लगाना चाहते हैं। प्रशासन की ओर से सीएसआर के तहत हमें ट्री गार्ड उपलब्ध कराया जाए ताकि हम ज्यादा से ज्यादा पौधे लगा सकें। इससे पर्यावरण संरक्षण एवं तापमान को कम करने में मदद मिलेगी। सहायक श्रम आयुक्त श्री आर के प्रधान ने बैठक की कार्रवाई का संचालन एवं आभार प्रकट किया। इस अवसर पर उद्योग विभाग के सीजी एम श्री कुसरे एवं खनिज अधिकारी श्री रमाकांत सोनी भी उपस्थित थे । आज की मंथन सभा कक्ष में आयोजित बैठक में चेंबर ऑफ कॉमर्स,व्यापारी महासंघ, चेंबर ऑफ कॉमर्स बिलासपुर, औद्योगिक क्षेत्र सिरगिट्टी,जिला उद्योग संघ, जिला परिवहन संघ, जिला औषधि विक्रेता संघ,नर्सिंग होम एसोसिएशन, राइस मिल एसोसिएशन, वाहन चालक संगठन, कोलवाशरी, संचालक पत्तेदार मुख्य एवं गौंड खनिज संघ, मुख्य एवं गौंड खनिज क्रशर संचालक संघ की प्रतिनिधि बैठक में शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post केन्द्रीय जेल रायपुर में बंदी कैदियों को सीसीटीवी इंस्टालेशन प्रशिक्षण कार्यक्रम
Next post पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पूर्व मंत्री मोहन मरकाम बिलासपुर प्रवास पर रहे शोक संतृप्त परिवारों से की भेंट मुलाकात
error: Content is protected !!