June 13, 2024

शाहेदा फाउंडेशन और एनसीसी एलूमनी द्वारा रक्तदान शिविर का किया गया आयोजन

बिलासपुर. विश्व रक्तदाता दिवस जो की 14 जून को है और आज महाराणा प्रताप जयंती होने पर उसी के उपलक्ष में रविवार के दिन 11:00 बजे से 4:00 बजे तक एकता ब्लड सेंटर मगरपारा बिलासपुर में शाहेदा फाउंडेशन और एन सी सी एलूमनी के द्वारा विशाल रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया
आज के इस रक्तदान शिविर में 80 यूनिट रक्तदान हुआ आज रक्तदान करने वाले युवा ज्यादा थे उनमें भी कई लोग ऐसे थे जो फर्स्ट बार रक्तदान कर रहे हैं उन्होंने बताया कि वह पहली बार रक्तदान कर रहे हैं और हमें बहुत अच्छा लग रहा है रक्तदान करके पहले मन में एक झिझक थी डर था लेकिन जैसे-जैसे पता, चल रहा है और सोशल मीडिया के माध्यम से भी हमें पता चल रहा है कि रक्तदान करने से कोई भी तकलीफ नहीं होती है परेशानी नहीं होती है बल्कि शरीर स्वस्थ रहता है क्योंकि पुराना रक्त निकलता है फिर नया रक्त वापस शरीर में बनता है और प्रत्येक व्यक्ति को कम से कम 4 महीने में एक बार रक्तदान करना चाहिए अगर वह स्वस्थ है तो रक्तदान करने से किसी का जीवन बचता है तो इससे बड़ी खुशी की बात और क्या हो सकती है वैसे तो हम दिन भर मुबाईल में लगे रहते हैं उससे किसी का भला नहीं होता है पर हमारे रक्तदान करने से किसी का भला हो रहा है यह हमारे लिए बड़े गर्व की बात है आज हम अगर किसी का जीवन बचा रहे हैं रक्त देकर तो कल हमें भी जरूरत पड़ सकती है रक्त की तो हमारे लीए भी कोई मदद करेगा जब हम किसी की मदद नहीं करेंगे तो हमारी मदद कौन करेगा कई लोग ऐसे भी थे जिन्होंने बताया कि उन्होंने अपने परिवार को खोया है क्योंकि उन्हें समय पर रक्त नहीं मिल पाया तो उन्होंने उसी दिन निश्चय किया कि आज हमने अपने परिवार के सदस्य को खोया है पर कोई अन्य व्यक्ति अपने परिवार के सदस्य को खोए इसलिए उन्होंने भी रक्तदान करना शुरू किया सबसे अच्छी बात यह है कि रक्तदान करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को संस्था के द्वारा प्रमाण पत्र दिया जा रहा है अपने जीवन की सुरक्षा के लिए हेलमेट भी दिया जा रहा है और स्मृति चिन्ह भी प्रदान किया जा रहा है उनकी हौसला अफजाई करने के लिए आज बिलासपुर शहर रक्त दान करने वाले लोगों का शहर बन गया है लोग बड चढ़कर रक्तदान कर रहे हैं और रक्तदान करा रहे हैं यह बड़ी खुशी की बात है और एक नई जागरूकता भी आई है नहीं सोच भी आई है इसीलिए शहर हो या गांव हो लोग आ रहे हैं ओर अपनी इअच्छा से रक्तदान कर रहे हैं पहले लोगों को बुलाना पड़ता था मेहनत करनी पड़ती थी कि भाई रक्तदान कर दो ,
लेकिन आज खुद ही आ रहे हैं कहीं भी देखते हैं पढ़ते हैं रक्तदान हो रहा है तो पहुंच जाते हैं अपना रक्त देने के लिए ऐसे ही भावना आज हर इंसान में हो जाएगी तो राम राज्य जरूर आ जाएगा किसी की मदद करने से दुख हरने से कहीं ना कहीं इसका लाभ हमें भी मिलेगा कभी हमें भी तकलीफ होगी दुख होगा तो सामने वाला कोई ना कोई हमारे भी दुख हरने मदद करने आएगा सच्ची इंसानियत इसे ही कहते हैं कार्यक्रम के आखिर में शाहिदा संस्था के द्वारा एनसीसी एलूमनी के सदस्यों को मोमेंटो प्रदान करके उनका सम्मान किया गया और एकता ब्लड बैंक संचालक डॉक्टर सुरेश गिरवानी
का भी आभार व्यक्त किया गया
आज के इस पूरे कार्यक्रम में सफल बनाने में संस्था के इन सदस्यों का विशेष सहयोग रहा
महेंद्र चतुर्थी, शैलेन्द्र टोंडर, मनप्रीत खनुजा, समाजसेवी पुष्पा शर्मा, विनय जेपी वर्मा, अब्दुलहुसैन, ब्रेनडन डिसुज़ा,अदनान वनक, ज़ोहर अली, सूरज वर्मा, नीलमणि सिंह ( बिट्टू ), लक्ष्मण प्रभुवानी, दीपांशु रजक, आर्यन साहू, पूजा प्रभुवानी, शुभम प्रभुवानी, एकता ब्लड सेंटर की पूरी टीम !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post बिलासपुर पुलिस ने अतुलनीय कार्य के लिए समाज सेविका सपना सराफ का किया सम्मान
Next post प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र नवानगर में प्रसव को लेकर प्रोटोकॉल का पालन नही करने वाले खण्ड चिकित्सा अधिकारी और स्टाफ नर्स निलंबित
error: Content is protected !!