April 16, 2024

कलेक्टर ने अपने कार्यालय की विभिन्न शाखाओं का किया औचक निरीक्षण

एक दर्जन कर्मचारी अनुस्थित,वेतन काटने के निर्देश

हर कर्मचारी की पहचान के लिए टेबल पर हो नेम प्लेट

अपने घर की तरह साफ सुथरा रखें कार्यालय

ज्यादा शुल्क लेने की शिकायत पर चॉइस सेन्टर के विरुद्ध कार्रवाई के निर्देश

अधिकारी अपने कक्ष में रखें उपस्थिति पंजी

बिलासपुर. कलेक्टर श्री अवनीश शरण ने आज संयुक्त जिला कार्यालय की विभिन्न शाखाओं और नया कंपोजिट बिल्डिंग में संचालित कार्यालयों का आकस्मिक निरीक्षण किया। साढ़े 11 बजे तक अनुपस्थित एक दर्जन कर्मचारियों को शोकॉज नोटिस जारी करते हुए एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए। एडीएम श्री शिवकुमार बनर्जी भी निरीक्षण में उपस्थित थे।
निरीक्षण के दौरान अधिकांश कर्मचारियों के टेबल पर नेमप्लेट नहीं पाए गए,इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि पहचान के लिए हर कर्मचारी की टेबल उनका पदनाम युक्त नेम प्लेट अनिवार्य रूप से हो ताकि लोगों को उनको ढूंढने में सुविधा हो। कलेक्टर ने कहा कि उपस्थिति पूंजी अधिकारी के कक्ष में रखा जाए। किसी बाबू के टेबल पर नहीं होने चाहिए। अधिकारी देखें कि कर्मचारी यदि पहुंचने में आधे घंटे विलंब हो तो पंजी में चिन्हित कर उन्हें नियमानुसार अनुपस्थित मानकर जरूरी कार्रवाई करें। कलेक्टर ने श्रम विभाग के निरीक्षण में कुछ काम से आए श्रमिकों से भी मुलाकात की। शहर की एक महिला श्रमिक ने बताया कि कार्ड में नाम सुधार के लिए चॉइस सेन्टर द्वारा 50 रुपया लिया गया है। जबकि इस काम के लिए शासन द्वारा लगभग 30 रुपए शुल्क निर्धारित है। कलेक्टर ने नाराजगी व्यक्त करते हुए चॉइस सेन्टर की आईडी जब्त करने के निर्देश श्रम आयुक्त को दिए। उन्होंने कार्यालय की साफ सफाई और दस्तावेजों के उचित रखरखाव पर जोर दिया। जैसे अपने घर को साफ सुथरा रखते हैं, उसी तरह की साफ सफाई अपने कक्ष और कार्यालय की भी करने के निर्देश दिए। कुछ राजस्व और श्रम निरीक्षकों के दौरे पर होने की जानकारी मिलने पर कलेक्टर ने मोबाइल से उनसे संपर्क किया, और किस काम से दौरे पर निकले हैं, इसकी जानकारी ली। उन्होंने कार्यालय प्रमुखों से अपने मातहत कर्मचारियों पर समुचित नियंत्रण रखकर नियमानुसार शासकीय कार्य समय पर संपादित करने के सख्त निर्देश दिए।
इन कर्मचारियों को वेतन काटने मिला नोटिस
कलेक्टर जब कार्यालयों का निरीक्षण कर रहे थे तब लगभग साढ़े 11 बजे तक जिला कार्यालय के 11 कर्मचारी गैर हाजिर पाए गए। उन्हें नोटिस जारी की गई है। इनमें 10 विभिन्न शाखाओं के कर्मचारी और एक भृत्य शामिल हैं। जिन्हें नोटिस जारी की गई है, उनमें केके पड़वार सहायक अधीक्षक, श्रीमती सुषमा ताम्रकार सहायक वर्ग दो, प्रमोद दुबे सहायक वर्ग दो,रौनक शर्मा सहायक वर्ग दो, श्रीमती मेघा छाबड़ा, सहायक वर्ग दो, श्रीमती रीना सोनी सहायक वर्ग तीन, मनीष जायसवाल सहायक वर्ग तीन, श्रीमती शशि कैवर्त्य सहायक वर्ग तीन, श्रीमती दिव्या आयु, श्रीमती प्रीति राजगीर तथा भृत्य तुषार वैष्णव शामिल हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post विशेष पिछड़ी जनजातियों को स्वरोजगार से जोड़ने शासन की नई पहल
Next post पुरानी रंजिश बना मारपीट का कारण, आरोपियों को लिया गया हिरासत में
error: Content is protected !!