April 21, 2024

नगोई में 5 मार्च को जिला स्तरीय पशु पक्षी मेला

विधायक सुशांत शुक्ला करेंगे शुभारंभ

किसानों से अधिकाधिक भागीदारी की अपील

उत्कृष्ट पशुपालकों को मिलेगा पुरस्कार

बिलासपुर. पशुधन विकास विभाग द्वारा जिला प्रशासन के सहयोग से 5 मार्च को नगोई (बैमा) में जिला स्तरीय पशु पक्षी मेले का आयोजन किया गया है। मेले में निःशुल्क पशु चिकित्सा शिविर भी लगाई जायेगी। शासकीय पशु प्रजनन प्रक्षेत्र मैदान में उक्त तिथि को सवेरे 11 बजे से मेला सह प्रदर्शनी शुरू होगी। विधायक श्री सुशांत शुक्ला मेले का शुभारंभ करेंगे। समारोह की अध्यक्षता जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अरुण चैहान और विशिष्ट अतिथि के रूप में कृषि स्थायी समिति के अध्यक्ष राजमहंत राजेश्वर भार्गव होंगे।
संयुक्त संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. जीएसएस तंवर ने बताया कि जिला स्तरीय पशु पक्षी प्रदर्शनी सह मेला में विभिन्न वर्गो के पशुओं को अलग-अलग समूहों में बांटकर प्रदर्शनी आयोजित की जावेगी। प्रत्येक समूह मे प्रतिस्पर्धा के आधार पर पशुओं के गुणवत्ता के अनुसार प्रथम, द्वितीय, तृतीय तथा तीन सांत्वना पुरस्कार प्रदाय किया जावेगा। उन्होंने समस्त कृषक एवं पशुपालकों से आग्रह किया है कि पशु प्रदर्शनी में अपने उन्नत नस्ल के पशुओं के साथ शिविर स्थल पर उपस्थित होकर प्रदर्शनी मे भाग लें। उन्नत नस्ल के पशुओं के प्रदर्शन हेतु पंजीयन नजदीकी पशु चिकित्सा संस्था अथवा मेला स्थल पर पंजीयन काउंटर पर अनिवार्य रूप से करावें। पशुपालकों को उत्साहवर्धन एवं प्रोत्साहन हेतु पुरस्कार एवं प्रशस्ति पत्र दिया जावेगा।

प्रदर्शनी के विभिन्न समूह इस तरह होंगे –
प्रथम समूह-कृत्रिम गर्भाधान से उत्पन्न संकर बछिया, द्वितीय समूह-दुधारू गाय, तृतीय समूह-कृत्रिम गर्भाधान से उत्पन्न स्वस्थ्य बछड़ा, चतुर्थ समूह-स्वस्थ्य बैल जोड़ी, पंचम समूह-उन्नत नस्ल की दुधारू भैंस, छठवां समूह-सांड़ प्रदर्शन, सप्तम समूह-पक्षी वर्ग (मुर्गी, बतख, जापानी बटेर), अष्टम समूह-बकरा, बकरी और नवम समूह-सूकर प्रदर्शनी का रखा गया है। पशुपालकों से अनुरोध है कि अपने पशुओं के साथ उपस्थित होकर निःशुल्क पशु चिकित्सा शिविर एवं प्रदर्शनी सह मेला से विभागीय योजनाओ के प्रदर्शन से अवगत होते हुये स्वस्थ पशुपालन कैसे किया जाता है, की जानकारी का लाभ उठायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post स्मार्ट सिटी परियोजना अगले पांच साल तक जारी रहेगी, फेस 2 को मिली स्वीकृति
Next post सिविल लाईन पुलिस द्वारा किया गया आर्म्स एक्ट की कार्यवाही
error: Content is protected !!