April 16, 2024

 के सी बोकाडिया का ऐतिहासिक सीरियल “सरदार : द गेम चेंजर” 10 मार्च से डीडी नेशनल पर होगा प्रसारित

भारत के लौह-पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल के जीवन की उल्लेखनीय यात्रा अब टीवी धारावाहिक “सरदार : द गेम चेंजर” में जल्द देखने को मिलेगी। नसीब अपना अपना, प्यार झुकता नहीं और आज का अर्जुन जैसी ढेरों सुपरहिट फिल्मों के मेकर के सी बोकाडिया ने इस ऐतिहासिक सीरियल को प्रस्तुत किया है जबकि उनके पुत्र राजेश बोकाडिया इस महत्वपूर्ण धारावाहिक के निर्माता हैं। 10 मार्च से यह धारावाहिक डीडी नेशनल पर हर रविवार सुबह 11:30 बजे और रात 10 बजे प्रसारित किया जाएगा। बी एम बी एंटर्टेंमेंट्स के बैनर में यह सीरियल बनाया जा रहा है।
“सरदार : द गेम चेंजर” में रजित कपूर सरदार वल्लभभाई पटेल का टाइटल रोल कर रहे हैं। सीरियल का निर्देशन दयाल निहलानी कर रहे हैं।
लेखिका गीता माणेक की पुस्तक ‘सरदार-द गेम चेंजर’ पर यह धारावाहिक बेस्ड है। इस किताब का विमोचन गृहमंत्री अमित शाह ने किया था। इस बुक में विस्तृत रूप से बताया गया है कि कैसे लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल ने 562 से अधिक रियासतों का भारत में विलीनीकरण किया।
मुम्बई के नायगांव में स्थित शानदार सत्या ड्रीम स्टूडियो में यह टीवी सीरियल लॉन्च किया गया जहां इसकी शूटिंग जारी है। धारावाहिक में मणिबेन पटेल का किरदार राजेश्वरी सचदेव, वीपी मेनन का चरित्र राकेश चतुर्वेदी, महात्मा गांधी का रोल दीपक अंतानी, नेहरू का रोल संजय, जिन्ना का रोल राजेश खेरा और माउंटबेटन का रोल रिक मैक्लेन ने निभाया है। डीओपी आकाशदीप पाण्डेय, आर्ट डायरेक्टर प्रदीप और संगीतकार हरप्रीत हैं।
सीरियल के प्रेजेंटर केसी बोकाडिया ने देश की एकता के सूत्रधार कहे जाने वाले सरदार वल्लभभाई पटेल को श्रद्धांजलि अर्पित की और कहा कि भारत के इतिहास में सरदार पटेल का योगदान कभी भुलाया जाने वाला नहीं है। सरदार पटेल ने देश की स्वतंत्रता संग्राम में जितना योगदान दिया, उससे अधिक योगदान उन्होंने आजाद भारत को एकजुट करने में दिया। इस सीरियल को हमने फ़िल्म या वेब सीरीज के ढंग से बनाया है। हमारे प्रोडक्शन का यह पहला टीवी धारावाहिक है जो बहुत महत्वपूर्ण बातें बताता है। रजित कपूर सहित सभी कलाकारों ने अच्छा काम किया है।
रजित कपूर ने कहा कि यह कोई साधारण डेली सोप नहीं है, यह एक असाधारण धारावाहिक है और ऐसा सीरियल बनाना बहुत ही चैलेंज वाला काम है। ऐसी चीज को पर्दे पर लाने की हामी भरी प्रोड्यूसर राजेश बोकाडिया ने यह कदम तारीफ के काबिल है। अगर गीता माणेक की लिखी किताब नहीं होती तो यह सीरियल भी नही आता। इसमे सभी बेहतरीन को एक्टर्स है। अक्सर लोग मुझसे पूछते थे कि आप ने नेहरू, गांधी और मोदी का किरदार किया है लेकिन सरदार पटेल का चरित्र नहीं निभाया है मगर अब इस का जवाब है मेरे पास। हालांकि यह किरदार निभाना आसान काम नहीं है।
गीता माणेक ने कहा कि यह मेरे लिए इमोशनल मोमेंट है। पिछले सात आठ साल से इस पर रिसर्च के साथ काम कर रही हूं। आशु पटेल और विरल राज मेरे को-राइटर रहे हैं। सरदार पटेल ने इतना बड़ा काम किया है कि आज जो भारत है वो नहीँ होता। किताब लिमिटेड लोगों तक ही पहुंच पाती है। कभी सोचा नही था कि यह किताब पर्दे तक पहुंचेगी। बोकाडिया जी का आभार कि उन्होंने इस सब्जेक्ट को सीरियल का रूप दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post प्रधानमंत्री विश्वकर्मा योजना से परंपरागत कारीगरों के हुनर को मिल रहा सम्मान
Next post दंगल पर दिखेगी नितिन गोस्वामी की “दीवानी” 
error: Content is protected !!