June 25, 2024

ग्रामीणों को बेदखल करके वर्षों से संचालित किया जा रहा है अवैध क्रेशर खनिज विभाग व कलेक्टर

 कार्यालय में शिकायत देने के बाद भी ग्राम कनेरी के ग्रामीणों की नहीं सुनी जा रही है फरियाद

बिलासपुर/ अनिश गंधर्व। बिल्हा तहसील के अंतर्गत आने वाले ग्राम कनेरी में वर्षों से अवैध डोलोमाइट क्रेशर का संचालन रसूखदारों द्वारा किया जा रहा है। इनके द्वारा किए जा रहे अवैध उत्खनन के ग्रामीण हलाकान हैं। कलेक्टर कार्यालय, एसडीएम बिल्हा व खनिज विभाग में शिकायत दर्ज कराने के बाद भी प्रशासनिक उदासीनता के चलते अवैध क्रेशर संचालक हौसले बुलंद हैं। रोजाना हो रहे ब्लास्ट से घरों के दीवार जर्जर हो रहे हैं। भारी वाहनों के आवाजाही के कारण सड़कों का भी बुरा हाल हो रहा हैं। कलेक्टर कार्यालय में ज्ञापन सौंपने आये ग्रामीणों ने बताया कि हमारे गांव में जब अवैध रूप से क्रेशर डोलोमाइट स्थापित किया जा रहा था तो बुर्जुगों ने इसका विरोध किया था। किंतु नेतागिरी से जुड़े रसूखदार लोगों ने उनकी एक नहीं सुनी। ग्रामीणों को बेदखल करके शासकीय जमीन में क्रेशर लगाकर दिन रात अवैध उत्खन्न किया जा रहा है। बिल्हा क्षेत्र के खनिज संपदा को गुण्डागर्दी के दम पर बर्बाद किया जा रहा है। शिकायत करने के बाद भी अवैध उत्खन्न व क्रेशर संचालित करने वालों पर कार्रवाई नहीं की जा रही है। ग्रामीणों ने बताया वर्ष 2019 में शिकायत की गई थी जिस पर आज तक कार्रवाई नहीं हुई। इस मामले से जिला कलेक्टर को अवनीश शरण को अवगत कराया गया है। अवैध उत्खनन करने वाले भारी वाहनों के चलते सड़क चलने लायक नहीं है। ग्रामीणों के अलावा मवेशी भी हादसे का शिकार हो रहे हैं। जनहित में बिल्हा क्षेत्र के संचालित हो रहे अवैध क्रेशर पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लगाने और जिन ग्रामीणों के मकान ब्लास्ट से क्षतिग्रस्त हुए हैं उन्हें मुआवजा सहित बदहाल हो चुके सड़कों को मरम्मत कराने की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post त्रिलोक श्रीवास ने दी ज्योत्सना चरण दास महंत को जीत की बधाई
Next post गोडाउन में शिफ्ट किए गए वीवीपेट व डिफेक्टिव ईवीएम
error: Content is protected !!