April 21, 2024

प्रदेश सरकार ने स्वीकारा कांग्रेस के शासन काल में हुआ प्रदेश में राशन घोटला, विधानसभा समिति करेगी जांच

पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने षष्ठम विधानसभा के पहले सत्र के पहले दिन ही किया पूर्ववर्ती सरकार के काले कारनामों को उजागर

कहा – प्रत्येक गरीबों को उनके हक का राशन मिलेगा।

बिलासपुर. पूर्व विधानसभा अध्यक्ष धरमलाल कौशिक ने षष्ठम विधानसभा के पहले सत्र के पहले दिन ही राशन घोटाले को लेकर लगाये पहले प्रश्नों के चलते पूर्ववर्ती सरकार के काले कारनामों (पीडीएस घोटाले) को उजागर किया है। प्रदेश की वर्तमान सरकार के खाद्य मंत्री दयालदास बघेल द्वारा छत्तीसगढ़ की राशन दुकानों से वितरित होने वाले केंद्रीय मद के चावल वितरण में घोटाले को विधानसभा में स्वीकार कर लिया है कि यह घोटाला पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के शासन काल में हुआ था और भारी मात्रा में अनियमितता हुई है। लेकिन कार्यवाही अभी तक कुछ नहीं हुई है। श्री कौशिक ने विपक्ष में रहते हुए इस विषय पर प्रश्न लगाया था। जिसे अब विधानसभा की समिति द्वारा जांच की जाएगी। श्री कौशिक ने मंत्री दयालदास बघेल को धन्यवाद ज्ञापित किया है और कहा कि जिन्होंने भी गरिबों के पेट का निवाला छिना है उन पर कड़ी कार्यवाही होनी चाहिए और दोषियों को इसकी कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए और दुध का दुध और पानी का पानी होना चाहिए। पिछले सरकार के कार्यकाल में बीजेपी ने इस घोटाले पर अनेक प्रश्न लगाकर आक्रोश दिखाया था लेकिन जवाब उसका नहीं आया था जो प्रतिवेदन प्रस्तुत होना था वह प्रतिवेदन भी नहीं आया था लेकिन पुनः इस बात को नए सिरे से उठाया गया और सदन की कमेटी से जांच कराने की घोषणा की गई है। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से गरीबो का चावल गरीबो तक पहुंचना चाहिए उसमें कोई अनियमितता न हो और इस बात से वर्तमान सरकार भी सचेत रहे की आगे भी इस मामले में किसी भी प्रकार की अनिमितता न पाई जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post छेड़छाड़ के आरोपी प्यारेलाल मिरझा गिरफ्तार
Next post इसरो और मद्रास आईआईटी के अध्ययन भ्रमण से लौटे जशपुर के मेघावी विद्यार्थियों ने देखी विधानसभा की कार्यवाही
error: Content is protected !!