April 21, 2024

राज्य स्तरीय पंचायत प्रतिनिधि सम्मेलन 11 मार्च को रायपुर में

पंचायती राज के सशक्तिकरण पर होगा विचार मंथन

जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अरुण चौहान ने प्रेस वार्ता में दी जानकारी

बिलासपुर. रायपुर के साइंस कॉलेज मैदान में 11 मार्च को राज्य स्तरीय पंचायत प्रतिनिधि सम्मेलन आयोजित किया गया है। सम्मेलन में बिलासपुर जिले से भी हजारों पंचायत प्रतिनिधि शामिल होंगे। जिला पंचायत अध्यक्ष श्री अरुण सिंह चौहान ने आज प्रेस क्लब में मीडिया प्रतिनिधियों से चर्चा करते हुए सम्मेलन की रूपरेखा बताई। जिला पंचायत के सीईओ श्री आरपी चौहान एवं एडिशनल सीईओ श्री रिमन सिंह भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
जिला पंचायत अध्यक्ष श्री चौहान ने बताया कि सम्मेलन में 26 हजार पंचायत प्रतिनिधि शामिल होंगे। इसमें राज्य के 27 जिला पंचायतों के अध्यक्ष व उपाध्यक्ष सहित कुल 400 जिला पंचायत सदस्य, 146 जनपद पंचायतों के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष सहित 2979 जनपद पंचायत सदस्य तथा 11647 सरपंच एवं इतने ही उप सरपंच सहित लगभग 26000 पंचायत प्रतिनिधियों का उक्त सम्मेलन में आमंत्रित किया जा रहा है। इसमें बिलासपुर जिले के सभी 483 सरपंच और उप सरपंच, 100 जनपद सदस्य, अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, 22 जिला पंचायत अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्य भी हिस्सा लेंगे। कार्यक्रम का आयोजन पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा किया जा रहा है।
कार्यक्रम मे माननीय केंद्रीय मंत्री भारत सरकार, मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय तथा मंत्रीगण सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहेंगे।कार्यकम में पंचायती राज संस्था के सशक्तिकरण तथा विकास की योजनाओं के क्रियान्वयन पर चर्चा की जाएगी।ग्राम पंचायत के द्वारा संकल्प पारित कर प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नाम से अभिन्नंदन पत्र पारित किया जाएगा ।जिसमें प्रधानमंत्री के प्रति विकास योजनाओ तथा व्यक्ति मूलक योजनाओं के अपने अपने पंचायतो में सफल कियान्वयन के प्रति आभार व्यक्त किया जाएगा।
पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रो में महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना, स्वच्छ भारत मिशन, राष्टीय ग्रामीण आजीविका मिशन, ( बिहान) 15 वें वित्त आयोग आदि अनेक योजनाओ का संचालन किया जा रहा है।ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा के तहत जहा रोजगार की गांरटी दी जा रही है, वही प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास योजना के द्वारा आवासहीन व अन्य जरूरत मंद परिवारों को पक्का मकान बनाने के लिए अनुदान दिया जा रहा है। इसके साथ साथ महिलाओं के सशक्तीकरण आत्मनिर्भरता व आर्थिक उन्नति के लिए राष्टीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत महिलाओ का समूह बनाकर उन्हें लखपति दीदी बनाने के लिए संगठित प्रयास किया जा रहा। महिलाओ के स्वाभिमान की रक्षा के लिए घर घर पक्के शौचालय का निर्माण किया गया है’
राज्य सरकार की घोषण पत्र में उल्लेखित मोदी की गारंटी के अनुरूप महतारी वंदन योजना के तहत विवाहित महिला को 1000 हजार प्रतिमाह देने की पूरी तैयारी कर ली गई है ।इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत निशुल्क रसोई गैस का कनेक्शन उपलब्ध कराया गया है। इसके अतिरिक्त अन्य योजनाओ का सचालन भी सफलता पूर्वक किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post दंगल पर दिखेगी नितिन गोस्वामी की “दीवानी” 
Next post अवैध शराब बिक्री करने वाले आरोपी को कोटा पुलिस ने किया गिरफ्तार
error: Content is protected !!