April 16, 2024

विशेष पिछड़ी जनजातियों को स्वरोजगार से जोड़ने शासन की नई पहल

घरेलू उत्पादन निर्माण के साथ-साथ उद्यमिता, वित्तीय प्रबंधन एवं महुआ से लड्डू बनाने का प्रशिक्षण

15 दिवसीय कौशल प्रशिक्षण का समापन

बिलासपुर.प्रधानमंत्री जनमन योजना के अंतर्गत कोटा तहसील के ग्राम पंचायत दारसागर के आश्रित गांव कुपाबांधा व झरना के बैगा जनजातियों को 15 दिवसीय कौशल प्रशिक्षण दिया गया। बैगा समुदाय के 20 हितग्राहियों का समूह बनाकर आजीविका विकास योजना के तहत महुआ लड्डू निर्माण कोर्स के प्रशिक्षण का समापन 31 जनवरी को हुआ। शासन द्वारा विशेष पिछड़ी जनजाति को स्वरोजगार से जोड़ने एवं महुआ के अन्य उपयोगिता के महत्व को बताने के लिए कौशल प्रशिक्षण के माध्यम से महुआ से लड्डू बनाने का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के दौरान हितग्राहियों को महुआ निर्माण के साथ-साथ उद्यमिता, वित्तीय प्रबंधन तथा अगरबत्ती, डिटर्जेंट, फिनायल एवं साबुन निर्माण संबंधी प्रशिक्षण दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post ‘शहीद दिवस‘ के अवसर पर बिलासपुर जिला स्काउट संघ द्वारा ‘सर्वधर्म सभा‘ का आयोजन
Next post कलेक्टर ने अपने कार्यालय की विभिन्न शाखाओं का किया औचक निरीक्षण
error: Content is protected !!