May 18, 2024

एक सुरक्षित प्रक्रिया है प्रोस्टेटिक आर्टरी एम्बोलाइजेशन-डॉ.शिवराज इंगोले  

मुंबई /अनिल बेदाग.प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन एक चिकित्सा प्रक्रिया है जो प्रोस्टेट ग्रंथि के बढ़ने के समस्याओं का इलाज करने के लिए उपयोग की जाती है। यह एक नौसिखिया तकनीक है जो रक्तस्राव को ग्रंथि में बंद करने के लिए प्रयोग की जाती है, जिससे ग्रंथि का आकार कम हो जाता है और उसके संबंधित समस्याओं को समाधान किया जा सकता है।
      मुंबई के जेजे अस्पताल में कार्यरत डॉ.शिवराज इंगोले का कहना है कि हम प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन के महत्व, प्रक्रिया, लाभ, और सावधानियों के बारे में विस्तार से चर्चा करेंगे, ताकि लोगों को इस तकनीक के बारे में जानकारी हो और वे अपने स्वास्थ्य को बेहतर ढंग से संरक्षित कर सकें।
प्रोस्टेट ग्रंथि का महत्व: प्रोस्टेट ग्रंथि एक छोटा प्रोस्टेटिक ग्रंथि होती है जो पुरुषों के उत्तेजन के लिए जिम्मेदार होती है। यह ग्रंथि मूत्रशोथ, या यौन उत्तेजन, को नियंत्रित करने के लिए महत्वपूर्ण होती है। प्रोस्टेट ग्रंथि के आकार में बढ़ोत्तरी के कारण, यह ग्रंथि पेशाब करने में कठिनाई, यौन दक्षता में कमी, और अन्य संबंधित समस्याओं का कारण बन सकती है।प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन का काम: प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन एक उच्चतम स्तरीय इंगिनियरिंग तकनीक है जो प्रोस्टेट ग्रंथि के लिए रक्तस्राव को बंद करती है। इस प्रक्रिया में, डॉक्टर एक स्मॉल साइज के ट्यूब के माध्यम से एक छोटे से गोल इंजेक्शन को प्रोस्टेट ग्रंथि के लिए भेजते हैं। इस इंजेक्शन में एक विशिष्ट चयनित ब्लॉकेज का उपयोग किया जाता है, जो ग्रंथि के आसपास की धमनियों को बंद कर देता है। इससे, ग्रंथि को उसकी आवश्यकतानुसार रक्त प्राप्ति में कठिनाई होती है और ग्रंथि का आकार कम हो जाता है।
प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन के लाभ:
सुरक्षितता: प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन एक सुरक्षित प्रक्रिया है जो बिना किसी सर्जरी और ऑपरेशन के किया जा सकता है। इसमें चाहिए गए इंजेक्शन के माध्यम से होता है जो कि साधारण रूप से सुरक्षित होता है।
विशालता: यह तकनीक बड़ी प्रोस्टेट ग्रंथि को संचालित करने में मदद करती है और पेशाब करने की समस्याओं को ठीक करने के लिए उपयोगी है।
कम असुविधा: यह प्रक्रिया अस्पष्टता का कारण बनने वाली बड़ी प्रोस्टेट संबंधित समस्याओं का समाधान करती है, जैसे कि पेशाब करने में कठिनाई और पेशाब के समय की कमजोरी।
कम अस्पताल रोकथाम: यह प्रक्रिया अस्पताल में लंबे समय तक रहने की आवश्यकता को कम करती है, जिससे रोगी जल्दी से अपने दिनचर्या पर लौट सकते हैं।
अस्थायिता: प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन के बाद रिकवरी समय और प्रक्रिया कम होती है, जिससे लोग जल्दी से अपने सामान्य जीवन में वापस आ सकते हैं।इन सभी लाभों के कारण, प्रोस्टेट आर्टरी एम्बोलाइजेशन एक प्रमुख विकल्प है जो प्रोस्टेट संबंधित समस्याओं का समाधान करने में मदद कर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post नाबालिक बालिका के साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी को 20 वर्ष का सश्रम कारावास
Next post जेएसडब्ल्यू पेंट्स ने वॉटरप्रूफिंग रेंज आईब्लॉक के लिए आयुष्मान खुराना के साथ लॉन्च किया नया कैम्पेन
error: Content is protected !!