April 21, 2024

स्मार्ट सिटी परियोजना अगले पांच साल तक जारी रहेगी, फेस 2 को मिली स्वीकृति

महतारी वंदन सम्मेलन 7 मार्च को, कलेक्टर ने की तैयारी की समीक्षा

शनिचरी में भी 5 रुपए में मिलेगा श्रमिकों को भरपेट भोजन

लोकसभा चुनाव की तैयारी की भी समीक्षा

बिलासपुर. बिलासपुर शहर को स्मार्ट सिटी परियोजना के फेस 2 में फिर से चयन किया गया है। अगले पांच साल तक परियोजना चलेगी। कलेक्टर अवनीश शरण की अध्यक्षता में आयोजित टीएल की बैठक में नगर निगम आयुक्त ने इस आशय की जानकारी दी। राज्य में केवल बिलासपुर शहर का चयन किया गया है। कलेक्टर ने बैठक में 7 मार्च को आयोजित महतारी वंदन सम्मेलन की तैयारी शुरू करने के निर्देश दिए। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री श्री विष्णु देव साय वीसी से जुड़कर सम्मेलन को संबोधित करेंगे। डीबीटी के जरिए योजना की पहली किस्त प्रति हितग्राही 1 हजार रुपए चयनित महिलाओं के खाते में अंतरित करेंगे। चुनिंदा हितग्राहियों से संवाद भी करेंगे।
कलेक्टर श्री शरण ने कहा कि विकसित भारत योजना की तर्ज पर महतारी वंदन सम्मेलन आयोजित होंगे । नगर निगम क्षेत्र के लिए कमिश्नर अमित कुमार और जनपदों के लिए संबंधित एसडीएम को नोडल अधिकारी बनाया गया है। सम्मेलन में छत्तीसगढ़ की माटी से जुड़े सांस्कृतिक कार्यक्रम भी होंगे। बाल विवाह रोकने का संकल्प भी लिया जाएगा। कलेक्टर ने आधार सीडिंग की प्रगति की भी समीक्षा की ।रविवार के बाद अब लगभग 25 हजार महिलाओं का सीडिंग बचा हुआ है। कलेक्टर ने 6 तारीख तक अनिवार्य रूप से आधार सीडिंग का कार्य पूरा कर लेने को कहा है।
श्रम विभाग द्वारा संचालित शहीद वीर नारायण सिंह अन्य सहायता योजना का विस्तार शनिचरी बाजार क्षेत्र में भी किया जाएगा। इसके लिए जगह का चिन्हांकन कर प्रस्ताव शासन को भेज दिया गया है। इस श्रम अन्न केंद्र में 5 रुपए में उन्हें भरपेट भोजन खिलाया जाएगा। फिलहाल यह योजना शहर के बृहस्पति बाजार और त्रिपुरा क्षेत्र में उपयोगी साबित हो रही है। प्रतिदिन लगभग 1 हजार श्रमिक 5 रुपए में गरम भोजन का आनंद उठाते हैं। कलेक्टर ने बैठक में लोकसभा चुनाव की चल रही तैयारियों की भी समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों से कहा की पीपीएस सॉफ्टवेयर में 8 तारीख तक कर्मचारियों की सूची अपडेट कर लें और इसकी सत्यापित प्रति एनआईसी में जमा करें ।उन्होंने कहा की विधानसभा चुनाव में काम करने कर चुके अधिकारियों को लोकसभा चुनाव में भी वही जिम्मेदारी सौंप गई है ताकि उनके अनुभव का लाभ मिल सके ।उन्होंने सेक्टर अधिकारियों को अपने क्षेत्र के मतदान केंद्रोंका निरीक्षण कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा है ताकि जरूरत पड़ने पर समय सीमा में सुधार का कार्य किया जा सके। बैठक में नगर निगम आयुक्त श्री अमित कुमार ,अपर कलेक्टर आरए कुरुवांशी सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Previous post कलेक्टर ने जनदर्शन में सुनी आम लोगों की समस्याएं
Next post नगोई में 5 मार्च को जिला स्तरीय पशु पक्षी मेला
error: Content is protected !!